डिजिटल विज्ञापन - Ad
चौमूँ स्पेशलसरकारी योजना

Indira Gandhi Urban Credit Card Scheme: राजस्थान सरकार बेरोजगारों को 50 हजार रुपए का दे रही लोन, नहीं देना होगा ब्याज

Indira Gandhi Urban Credit Card Scheme: राजस्थान सरकार बेरोजगारों को 50 हजार रुपए का दे रही लोन, नहीं देना होगा ब्याज 

 

Indira Gandhi Urban Credit Card Scheme: राजस्थान सरकार बेरोजगारों को 50 हजार रुपए का दे रही लोन, नहीं देना होगा ब्याज  छोटे व्यापारियों, विक्रेताओं, थाड़ी, ठेला व्यापारियों और असंगठित क्षेत्र में सेवाएं प्रदान करने वालों को 50 हजार रुपये तक का कर्ज देगी,

जो कोरोनोवायरस संक्रमण के दौरान लगाए गए लॉकडाउन के कारण बेरोजगार हो गए हैं. राजस्थान सरकार का मकसद छोटे व्यापारियों को आर्थिक तंगी के संकट का सामना करने से बचाना है. इस योजना के माध्यम से लॉकडाउन के कारण अनौपचारिक व्यापार पर पड़ने वाले दुष्प्रभाव को कम किया जाएगा. यह योजना राजस्थान सरकार 6 अगस्त, 2021 को शुरू की गई थी और यह 31 मार्च, 2022 तक चलेगी.

Indira Gandhi Urban Credit Card Scheme: राजस्थान सरकार बेरोजगारों को 50 हजार रुपए का दे रही लोन, नहीं देना होगा ब्याज  इस योजना के माध्यम से कर्ज लेने के लिए किसी प्रकार की गारंटी देने की आवश्यकता नहीं है. इस योजना के तहत 31 मार्च 2022 तक आवेदन किए जा सकते हैं. लाभार्थी को 12 महीने की अवधि के भीतर कर्ज चुकाना होगा.

Indira Gandhi Urban Credit Card Scheme  के नोडल अधिकारी जिला कलेक्टर होंगें-

जिला कलेक्टर जिले में इंदिरा गांधी शहरी क्रेडिट कार्ड योजना के नोडल अधिकारी होंगे. लाभार्थियों का सत्यापन अनुविभागीय अधिकारी द्वारा किया जाएगा. इस योजना राजस्थान सरकार के तहत होने वाला खर्च राज्य सरकार द्वारा वहन किया जाएगा. लाभार्थी द्वारा 31 मार्च, 2022 तक एक या अधिक किश्तों में क्रेडिट कार्ड या डेबिट कार्ड के माध्यम से कर्ज की राशि वापस ली जा सकती है. कर्ज की रकम को चौथे से 15वें महीने तक 12 समान किश्तों में चुकाया जाएगा. लगभग 5 लाख नागरिकों को पहले आओ पहले पाओ के आधार पर कर्ज उपलब्ध कराया जाएगा.

Indira Gandhi Urban Credit Card Scheme Rajasthan के तहत, अनुसूचित वाणिज्यिक बैंकों, क्षेत्रीय ग्रामीण बैंकों, लघु वित्त बैंकों, सहकारी बैंकों और गैर-बैंकिंग वित्त कंपनियों द्वारा ऋण प्रदान किया जाएगा. स्थानीय शहरी संकाय द्वारा विक्रेता को जारी प्रमाण पत्र के आधार पर जिला स्तर पर लाभार्थियों की पहचान की जाएगी. जल्द ही सरकार इस योजना के तहत आवेदन करने के लिए आधिकारिक वेबसाइट और मोबाइल ऐप लॉन्च करेगी.

इंदिरा गांधी शहरी क्रेडिट कार्ड योजना का लाभ किन-किन को मिल-सकेगा-

 

  • रिक्शावाला
  • कुम्हा
  • धोबी
  • नाई
  • मेकैनिक
  • दर्जी
  • मोची
  • पेंटर
  • इलेक्ट्रिक रिपेयरमैन आदि

राजस्थान इंदिरा गांधी शहरी क्रेडिट कार्ड योजना का उद्देश्य- 

Objective of Rajasthan Indira Gandhi Urban Credit Card Scheme-
  • लाभार्थियों को 50000 तक का ब्याज मुक्त ऋण उपलब्ध करवाना, लाभार्थी के लिए ब्याज
  • मुक्त होगा यह सी योजना के अंतर्गत ब्याज हेतु शत-प्रतिशत अनुदान राज्य सरकार उपलब्ध करवाएगी।
  • स्व-रोजगार को प्रोत्साहित करना।
  • अनौपचारिक व्यापार क्षेत्र में कोविड-19 के दुष्प्रभाव को कम करना।
  • इस योजना में राजस्थान के 500000 लोगों के लिए पहले आओ पहले पाओ के आधार पर ऋण उपलब्ध करवाया जायेगा।
  • यह योजना केवल राजस्थान के शहरी क्षेत्र के लोगों के लिए ही लागू होगी।
    बैंक और अन्य वित्तीय संस्थानों से जुड़ने के लिए किसी भी प्रकार का सर्विस चार्ज नहीं
  • लगेगा।
  • रोजमर्रा की जरूरतों के लिए वित्तीय संसाधन उपलब्ध करवाना।
  • अनौपचारिक क्षेत्र में छोटे व्यापार को विकसित करने के लिए बढ़ावा देना।
  • यह लोन एक वर्ष बाद वापस जमा करवाना होगा।

राजस्थान इंदिरा गांधी शहरी क्रेडिट कार्ड योजना से लोन योजना के लिए दस्तावेज-

Documents for Loan Scheme from Rajasthan Indira Gandhi Urban Credit Card Scheme

अगर आप 50 हजार रूपये का ब्याजमुक्त लोन लेना चाहते है और इसकी पात्रता रखते है तो आप इसके लिए आवेदन कर सकते है इसके लिए आपके पास निचे बताये गए दस्तावेज होने आवश्यक है।

  • जन आधार कार्ड
  • एड्रेस प्रूफ
  • पासपोर्ट आकर का फोटो
  • सिफारिश पत्र
  • बैंक अकाउंट की पासबुक
  • विक्रेता प्रमाण पत्र
  • स्व प्रमाणित शपथ पत्र
  • बेन्डिंग आईडी

राजस्थान इंदिरा गांधी शहरी क्रेडिट कार्ड योजना ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया-

Rajasthan Indira Gandhi Urban Credit Card Scheme Online Application Process
  • मोबाइल एप (Mobile App) या वेब पोर्टल पर पंजीकरण सेक्शन में जाकर रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया प्रारम्भ करनी होगी।
  • आवेदक को मोबाइल नंबर ओटीपी के माध्यम से वेरीफाई करना होगा।
  • आधार संख्या दर्ज करनी होगी और आधार से पंजीकृत मोबाइल नंबर से वेरिफिकेशन करना होगा।
  • आधार कार्ड से मोबाइल नंबर लिंक्ड न होने की स्तिथि में किसी नजदीकी कीओस्क पर बायोमेट्रिक वेरिफिकेशन की जा सकती है।
  • इसके बाद आवेदन फॉर्म में मांगी गई जानकारी सही से भरनी है।
  • फॉर्म सबमिट करने के बाद acknowledgement slip डाउनलोड करनी होगी।
  • सम्बंधित नोडल अधिकारी को सात दिनों के अंदर प्राप्त आवेदनों को सत्यापित करना होगा।
  • इंदिरा गांधी क्रेडिट कार्ड जारी हो जाने के बाद लाभार्थी को SMS के माध्यम से जानकारी दी जायेगी।

 

Join -चौमूं की छोटी-बड़ी खबरें देखने के लिए चौमूं सिटी न्यूज़ - ब्रेकिंग न्यूज़, टेलीग्राम चैनल को सब्सक्राइब करें -
डिजिटल विज्ञापन - Ad

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker