डिजिटल विज्ञापन - Ad
चौमूँ आस-पासताजा समाचार

खुले कुएं दे रहे हादसे को न्यौता..!

खुद की जान जोखिम में डालकर, 200 फिट गहरे कुएं से मृत सांड को निकाला बाहर..!

खुले कुएं दे रहे हादसे को न्यौता..!

खुद की जान जोखिम में डालकर, 200 फिट गहरे कुएं से मृत सांड को निकाला बाहर..!

गौ रक्षक दल की टीम ने 4 घंटे रेस्क्यू कर मृत सांड को कुएं से निकाला बाहर

चौमूं। उपखंड के ग्रामीण इलाकों में खुले कुएं हादसों को न्यौता दे रहे है। आज भी गोविंदगढ़ के सिंगोद खुर्द गांव के खारिया वाली ढाणी सती माता मंदिर के पास खेत में बने करीब 200 फीट गहरे खुले कुएं में गिरने से एक सांड की मौत हो गई। वहीं स्थानीय लोगों ने खुले कुएं में सांड गिरने की सूचना गौ रक्षक दल की टीम को दी गई। वही गौ रक्षक दल टीम के प्रदेश अध्यक्ष मुकेश सोकिल को इस मामले की सूचना मिलने पर अपनी टीम के साथ मौके पर पहुंचे और करीब 4 घंटे की कड़ी मशक्कत करके मृत सांड को कुएं से बाहर निकाला। हालांकि यह एक खुला कुआं सांड के लिए जानलेवा साबित हो गया। वही इन मामलों को लेकर स्थानीय प्रशासन की लापरवाही भी सामने आ रही है।

खुला कुआं सांड के लिए हुआ जानलेवा साबित —-

सिंगोद खुर्द गांव के खारिया वाली ढाणी सती माता मंदिर के पास बने 200 फीट गहरे कुएं में एक सांड की गिरने से मौत हो गई।
वही गौ रक्षक दल की टीम व ग्रामीणों की सहायता से कड़ी मशक्कत करके मृत सांड को कुएं से बाहर निकाला गया। वहीं सूचना मिलने पर खेजरोली पुलिस चौकी का जाब्ता व सरपंच प्रतिनिधि त्रिलोक लोच्छिब भी मौके पर पहुंचे। और घटना की जानकारी ली। और क्रेन की मदद से मृत सांड को कुएं से बाहर निकाला गया और इसके बाद स्थानीय ग्रामीणों ने सिंगोद खुर्द नदी क्षेत्र में सांड को दफनाया गया।

ग्रामीणों ने खुले कुएं ढकने की रखी मांग–

स्थानीय ग्रामीणों ने पंचायत प्रशासन से इस खुले कुएं को ढकने की मांग रखी है। और करीब 60 वर्ष पहले बने इस 200 फीट गहरे कुएं में सांड गिरने से मौत हो गई। इसी को लेकर बाल गोपाल गौ रक्षक दल समिति ने भी उपखंड अधिकारी राहुल जैन को ज्ञापन सौपकर चौमूं उपखंड इलाके में खुले पड़े कुओं को ढकने की मांग रखी है। ज्ञापन में प्रशासन से मांग की गई है कि जल्द से जल्द इन खुले हुए कुओं को बंद किया जाए। जिससे इस प्रकार के हो रहे हादसों पर रोक लगे, अन्यथा इन खुले हुए कुओं के कारण कोई जनहानि भी हो सकती है।

खुद की जान जोखिम में, फिर भी सुनिए मुकेश की जुबानी—

बाल गोपाल गौरक्षक दल के प्रदेश अध्यक्ष मुकेश सोकिल जो कि गोविंदगढ़ पंचवटी मौहल्ला पुरानी खादी के पास के निवासी हैं। जो करीब 10 वर्ष से गायों की नि:स्वार्थ सेवा कर रहे हैं। और हाईवे पर दुर्घटना के दौरान घायल होने वाले सांड व गायों को अपनी गौशाला में ले जाकर नि:स्वार्थ उनका इलाज करते हैं,और चारा-पानी की व्यवस्था भी करते हैं। और गौशाला में करीब 50 से अधिक ऐसी गाय और सांड हैं जो दुर्घटना में घायल है। और गौ रक्षक दल के मुकेश सोकिल को किसी भी व्यक्ति द्वारा सड़क दुर्घटना में घायल गाय व अन्य जानवरों के बारे में भी कोई सूचना मिलती है। तो नि:स्वार्थ भाव से मदद करने के लिए मौके पर पहुंच जाते हैं। मुकेश सोकिल ने बताया कि कई बार खुले हुए में उतरने के दौरान जहरीले जीव-जंतुओं का डर भी बना रहता है। लेकिन फिर भी मैं गौ सेवा करने के लिए हमेशा तैयार रहता हूं। जो भी मुझे सूचना मिलती है, वहां पर टीम सहित पहुंचकर हर संभव मदद का प्रयास करता हूं। कई बार मेरे साथ जहरीले जीव जंतुओं द्वारा काटने की भी घटना हुई हैं।  लेकिन हमेशा मेरे साथ भगवान का ऐसा संयोग रहता है कि मैं इन कठिनाइयों से कभी नहीं डरा। सिर्फ संसाधनों के अभाव के कारण थोड़ा कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है। और कई बार क्रेन की सहायता से कुएं में उतरते समय करीब तीन-चार बार रस्सी टूटने की भी घटना हो चुकी है। लेकिन उन कुओं की गहराई ज्यादा नहीं थी। इसलिए कई बार मैं ऐसे हादसों से भी बाल-बाल बचा हुआ हूं।

Join -चौमूं की छोटी-बड़ी खबरें देखने के लिए चौमूं सिटी न्यूज़ - ब्रेकिंग न्यूज़, टेलीग्राम चैनल को सब्सक्राइब करें -
डिजिटल विज्ञापन - Ad

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button

Adblock Detected

Please consider supporting us by disabling your ad blocker